City India

Nanda Devi Temple


Nanda Devi Templeनंदा देवी जो की हिमालय की पुत्री और शिव की अर्धांगिंनी है गढ़वाल और कुमाऊॅं वासियों के हृदय मैं बिराजमान हैं । उत्तराखण्ड में उन्हें देवी शक्ति पार्वती का रूप तो माना ही जाता है, नंदा को बहिन-बेटी मानकर भी जो प्रेम मिला है वह अन्य कोई देवी प्राप्त नहीं कर पाई । जो मन को मोहने वाली देवी शक्ति है वहीं नंदा है। नंदा के सम्मान में गढ़वाल हिमालय में मन्दिर स्थापित किये गये, उनके लिए मेलों का भब्य आयोजन होता है। गढ़वाल में तो महाकुम्भ परम्परा के समान हर 12हवें वर्ष नंदा की डोली नौटी गांव से नंदा पर्वत के चरण होमकुन्ड तक एक वृहद यात्रा का आयोजन होता है। करीब 264 किलोमीटर लम्बी यह पैदल यात्रा नंदा राजजात के नाम से मनाई जाती हैं ।


Nanda Devi Raj Jat Yatra 2013 Night Hault

    Day   Night Hault
    1.      Nauti to Eda Bandhani
    2.      Eda Bandhani to Nauti
    3.      Nauti to Kansuwa
    4.      Kansuwa to Sem
    5.      Sem to Koti
    6.      Koti to Bhagoti
    7.      Bhagoti to Kulsari
    8.      Kulsari to Chepdue
    9.      Chepdue to NandKesari
    10.     NandKesari to Faldiya
    11.     Faldiya Gaun to Mundoli
    12.     Mundoli to Vaan
    13.     Vaan to Geroli Patal
    14.     Geroli Patal to Patar Nachoniya
    15.     Patar Nachoniya to Sila Samundra
    16.     Sila Samundra to ChandniyaGhat
    17.     ChandniyaGhat to Sutol
    18.     Sutol to Ghat
    19.     Ghat to Nauti
    

Share your views